Sonam' Sms Collection - Page 2

3 years ago

Yeh Haseen mausam ,
yeh Hawaaye ,
yeh Baarish

Lagta hai ,
Mohabbat mein kisi ne aaj ,
Wafa karli !!

I Like SMS - Like: 480 - SMS Length: 106
Tags: Love Shayri -
3 years ago

Ajab Tamasha Hai Mitti Se Bane Logon Ka....!!

Bewafai Karo To Rote Hain, Agar Wafa Karo To Rulate Hain....

I Like SMS - Like: 524 - SMS Length: 111
Tags: Love Shayri -
3 years ago

Meri aankho mein nind banker reh jao ab to,
Tumhare intzaar mein kitni raaton se bewfai ki hai maine….

I Like SMS - Like: 356 - SMS Length: 105
Tags: Love Shayri -
3 years ago

Wo roz dekhta hai dubte huye suraj ko,
Kash main bhi kisi shaam ka manzir hota....

I Like SMS - Like: 296 - SMS Length: 83
Tags: Love Shayri -
3 years ago

Beautiful Line...

Aap ki kismat ka likha aapse koi lenahi sakta...

Agar uski rehmat ho to,
Aapko vo bhi mil jayega jo aap ka ho nahi sakta....

I Like SMS - Like: 414 - SMS Length: 149
Tags: Love Shayri -
3 years ago

शायद ज़िन्दगी बदल रही है!! जब मैं छोटा था, शायद दुनिया बहुत बड़ी हुआ
करती थी..
मुझे याद है मेरे घर से "स्कूल" तक का वो रास्ता,
क्या क्या नहीं था
वहां, चाट के ठेले, जलेबी की दुकान, बर्फ के गोले,
सब कुछ, अब वहां "मोबाइल शॉप", "विडियो पार्लर" हैं, फिर
भी सब सूना है..
शायद अब दुनिया सिमट रही है... जब मैं छोटा था, शायद शाम बहुत लम्बी हुआ करती थी.
मैं हाथ में पतंग की डोर पकडे, घंटो करता था,
वो लम्बी "साइकिल रेस",
वो बचपन के खेल, वो हर शाम थक के चूर हो जाना,
अब शाम नहीं होती, दिन ढलता है और सीधे रात
हो जाती है. शायद वक्त सिमट रहा है.. जब मैं छोटा था, शायद दोस्ती बहुत गहरी हुआ करती थी,
दिन भर वो हुज़ोम बनाकर, वो दोस्तों के घर का खाना,
वो लड़कियों की
बातें, वो साथ रोना, अब भी मेरे कई दोस्त हैं,
पर जाने कहाँ है, जब भी "ट्रेफिक " पे मिलते हैं
"हाई" करते हैं, और अपने अपने रास्ते चल देते हैं,
होली, दिवाली, जन्मदिन , नए साल पर बस SMS आ जाते
हैं
शायद अब रिश्ते बदल रहें हैं.. जब मैं छोटा था, तब खेल भी अजीब हुआ करते थे,
छुपन छुपाई, लंगडी टांग, पोषम पा, कट थे केक,
टिप्पी टीपी टाप.
अब इन्टरनेट, ऑफिस, हिल्म्स, से फुर्सत
ही नहीं मिलती..
शायद ज़िन्दगी बदल रही है. जिंदगी का सबसे बड़ा सच यही है.. जो अक्सर
कबरिस्तान के बाहर बोर्ड पर लिखा होता है.
"मंजिल तो यही थी, बस जिंदगी गुज़र
गयी मेरी यहाँ आते आते " जिंदगी का लम्हा बहुत छोटा सा है.
कल की कोई बुनियाद नहीं है
और आने वाला कल सिर्फ सपने मैं ही हैं.
अब बच गए इस पल मैं..
तमन्नाओ से भरे इस जिंदगी मैं हम सिर्फ भाग रहे
हैं..

I Like SMS - Like: 764 - SMS Length: 3377
Tags: Love Shayri -
3 years ago

Uski Hasrat Ko Mere Dil Mein Likhne
Wale...!!!

Kaash Usko Bhi Meri Kismat Mein
Likha Hota..

I Like SMS - Like: 304 - SMS Length: 96
Tags: Love Shayri -
3 years ago

Ek meri hi nzr ho unpe hmesha...
Or koi nazar unka didar na kre...

ho meri mohbbt ki siddt itni gehri...
ke wo bhool se bhi Kisi or se pyar na kre...

I Like SMS - Like: 565 - SMS Length: 154
Tags: Love Shayri -
3 years ago

Humein Surat se Kya Matlab ,Hum Seerat Pey
Marty Hain..
<>♥♥<>♥♥<>♥♥<>♥♥<>♥♥<>♥♥<>♥♥<>
Usy Kahna Tumhara Husan Dhal Jaye To Lout
Ana..!

I Like SMS - Like: 372 - SMS Length: 167
Tags: Love Shayri -
3 years ago

Lamhon Ki Yaadein Sambhal K Rakhna...
Hum Yaad To Aahein Gy..
lekin
Loat Kar Nahi..

I Like SMS - Like: 384 - SMS Length: 86
Tags: Love Shayri -
Previous 1 2 3 4 5 Next
Page(2/8)
Jump to Page

Language

Arrow_dark English SMS
Arrow_dark Hindi SMS
Arrow_dark All SMS